अक्षत कुंडली

527161_Anushthan-1-300x240

“नवग्रह अक्षत कुंडली अनुष्ठान”

पूजा कुछ नही है किन्तु भगवान की आराधना है। आराधना का उद्देश्य भिन्न हो सकता है कुछ मोक्ष के लिये करते है कुछ धन्यवाद देने कें लिए करते है कुछ दैनिक व्यवहार के लिये करते है और परम्परा या कुछ डर को भगाने के लिये करते है।लेकिन हर एक पूजा कुछ पाने के लिये करते है।

ग्रह नक्षत्रों भगवान की आराधना कुछ पाने के लिये और तारों के नकारात्मक असर से बचने के लिये करते है। वेद शास्त्र और ज्योतिष शास्त्र ने कई पूजा और अनुष्ठान को प्रकाशित किया है जो ग्रह नक्षत्रो तारों के नकारात्मक असर को निकालता है। अगर ये पूजा व अनुष्ठान अच्छे सुशिक्षित वैदिक पंडितो से करवाये जाये तो इसके चमत्कारिक परिणाम मिलते है।

यह एक विशेष प्रकार का अनुष्ठान है जो जन्मकुंडली पर आधारित है जो जन्मकुंडली मैं पाए जाने वाले दोषों को दूर करने के लिए किया जाता है | इस अनुष्ठान को जन्मकुंडली के आधार पर विशेष मुहूर्त में स्वास्थ्य, धन, समृद्धि, शांति और पर्यावरण को शुद्ध करने के लिए आयोजित किया जाता है |

Translate »